ऐतहासिक

International women’s day in hindi में इतिहासिक महिलाये !

International women's day in hindi

International women’s day in hindi

अनमोल बचन

एक पुरुष की जिंदगी महिला के बिना ऐसी है जैसे बिना पर के पक्षी !!!

International women’s day in hindi कब शुरू हुआ?

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एक मजदूर आंदोलन से उपजा है !

इसका बिजोरोपण बर्ष 1908 में हुआ था जब 15 हजार महिलाओ ने न्यूयोर्क में मार्च निकाल नौकरी में काम घंटो की मांग की थी !

इसके इलावा उनकी मांग थी की उन्हें बेहतर वेतन दिया जाए और मतदान करने का अधिकार भी दिया जाए !

एक बर्ष बाद सोशलिस्ट पार्टी आफ अमेरिका ने इस दिन को पहला राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित किया !

अमेरिका में मार्च का महीना ” विमेंस हिस्ट्री मंथ ” के तोर पर मनाया जाता है !

क्लारा जेटकिन ने 1910 में कोपेनहेगन में कामकाजी की एक इंटरनेशनल कांफ्रेंस के दौरान अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने का सुझाव दिया !

उस समय कांफ्रेंस में 17 देशो की 100 महिलाये मौजूद थी !

उन सभी ने इस सुझाव का समर्थन किया था !

International women’s day in hindi

8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है ?

वास्तव में क्लारा जेटकिन ने महिला दिवस मनाने के लिए कोई तारिक तय नहीं की थी !

1917 में युद्ध के दौरान रूस की महिलाओ ने ” ब्रेड एंड पीस ” ( यानी खाना और शांति ) की मांग की !

महिलाओ की हड़ताल ने वहां के सम्राट निकोलस को पद छोड़ने के लिए मजवूर कर दिया और अंतरिम सरकार

ने महिलाओ को मतदान का अधिकार दे दिया !

उस समय रूस में जूलियन कैलेंडर का प्रयोग होता था !

जिस दिन महिलाओ ने यह हड़ताल शुरू की थी वह दिन 23 फरवरी का था !

ग्रेगरियन कलेण्डरों में यह दिन 8 मार्च था और फिर अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च को मनाया जाने लगा !

इतिहासिक महिलाये जिन्होंने रचा इतिहास

प्रथम महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल

International women's day in hindi

साधारण साडी और बड़ी सी बिंदी लगाने वाली प्रतिभा देवी सिंह पाटिल भारत की पहली महिला राष्ट्रपति बनी

और देश का गौरव बढ़ाया ! इनका जन्म 19 दिसंबर , 1934 को महाराष्ट्र के जल गाओ में हुआ !

राष्ट्रपति चुनाव में प्रतिभा जी ने अपने प्रतिद्वंदी भैरो सिंह शेखावत

को तीन लाख से अधिक मतो से हराया और राष्ट्रपति का पद ग्रहण किया !

वह 25 जुलाई 2007 को पहली महिला राष्टपति बनी !

प्रथम महिला प्रदानमंत्री इंदिरा गाँधी

International women's day in hindi

इंदिरा प्रियदर्शनी गाँधी का नाम किसी पहचान का मोहताज नहीं इनका जन्म 19 नवंबर 1917 को हुआ !

यह लगातार 1966 से 1977 तक लगातार तीन पारी के लिए भारत गणराजिया की प्रदानमंत्री रही

और उसके बाद चौथी पारी में 1980 से लेकर 1984 में उनकी हत्या तक प्रदानमंत्री रही ,

वह भारत की प्रथम अब तक एक मात्र महिला प्रदानमंत्री रही !

नावेल शांति पुरस्कार महिला मदर टेरेसा

International women's day in hindi

मदर टेरेसा एक ऐसा नाम है जिनका स्मरण होते ही मन श्रद्धा से भर उड़ता है

जो एक रोमन कैथोलिक नन थी गरीबो के सेवा के लिए वह भारत आयी

और यही वस् गयी तथा 1948 में भारतीय नागरिकता लेली !

इन्होने कोलकाता में मशीनरीज ऑफ़ चैरिटी की स्थापना की !

इमका जन्म 26 अगस्त 1910 मैसेहोनिया में हुआ था !

इनका वास्तिवक नाम अग्नेस गोंसा बोयाजीजु था !

अलबेलियन भाषा में इस नाम का अर्थ फूल की कली होता है !

उन्होंने सारी उम्र गरीबो व् अनाथ बच्चो की सेवा में बिता दी !

इसी कार्य के लिए उन्हें 1979 में नावेल शांति पुरस्कार से नवाजा गया !

अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला

International women's day in hindi

भारत की बेटी कल्पना चावला पहली भारतीय महिला बनी जो अंतरिक्ष पर गयी !

17 मार्च 1962 को करनाल ( हरियाणा ) में जन्मी चावला भारतीय अमरीकी अंतरिक्ष शटल मिशन विशेषज्ञ थी !

अंतरिक्ष यात्री बनने से पहले कल्पना एक प्रसिद्ध नासा वैज्ञानिक थी !

अंतरिक्ष में बिना डर खुमने वाली भारत की बेटी जब 1 फरवरी 2003 को स्पेस शटल में अंतरिक्ष से वापिस लोट रही थी

तो मात्र धरती पर पहुंचने में 16 मिनट रह गए थे और अचानक अंतरिक्ष यान का सम्पर्क नासा से टूट गया !

41 बर्ष की आयु में चावला दूसरी अंतरिक्ष यात्रा के दौरान हादसे का शिकार हो गयी

और अपने 7 सदस्यों संग सदा के लिए अंतरिक्ष में ही समां गयी !

प्रथम महिला डॉक्टर आनंदी बाई

International women's day in hindi

आनंदी बाई जोशी का व्यक्तित्व महिलाओ के लिए प्रेरणास्तोत्र है

क्युकी जिस समय में महिलाओ का दसवीं पास करना बड़ी बात थी

उस ज़माने में आनंदी बाई ने m.b.b.s की डिग्री प्राप्त की और प्रथम महिला डॉक्टर होने का गौरव प्राप्त किया !

पुणे में जन्मी आनंदी ने अमेरिका में जाकर डॉक्टरी की शिक्षा पर्पट की

जब 14 बर्ष की आयु में वे माँ बनी और उनकी संतान की मृत्यु 10 दिनों में ही होगयी

अपनी संतान खो देने के बाद उन्होंने ये थाना की वह डॉक्टर बनेगी !

प्रथम आईपीएस महिला किरण बेदी

International women's day in hindi

किरण बेदी ने प्रथम महिला आईपीएस बन भारत का गौरव बढ़ाया इनका जन्म 9 जून 1949 को अमृतसर में हुआ !

1972 में भारतीय पुलिस सेवा में सम्लित होने वाली वह प्रथम महिला अधिकारी बनी !

प्रथम भारतीय महिला मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन

21 मई का दिन भारत का दिन बेहत ख़ास है

इस दिन 1994 में भारत की सुष्मिता सेन मिस यूनिवर्स के खिताव से नवाजी गयी !

सुष्मिता सेन का जन्म 19 नवंबर 1975 को हैदराबाद में हुआ !

सुष्मिता के मिस यूनिवर्स बनने के बाद ये बात सामने आयी की उन्होंने मिस यूनिवर्स के फाइनल राउंड में जो

गाउन पहना था वह उनकी माँ ने डिज़ाइन किया था और इस गाउन को बनाने वाला एक लोकल टेलर था !

प्रथम राज्यपाल सरोजनी नायडू

International women's day in hindi

महिलाओ ने हर जगह नाम कमाया है चाहे कोई भी क्षेत्र क्यों न हो !

पहली महिला राज्यपाल 15 अगस्त 1947 को बनी सरोजनी नायडू उत्तर प्रदेश की राज्यपाल बनी !

उनका जन्म 13 फरवरी 1879 को हैदराबाद को हुआ और मृत्यु , 2 मार्च 1949 को हुयी !

अनमोल रत्न गायिका लता मंगेशकर

International women's day in hindi

लता मंगेशकर भारत ही नहीं पूरी विश्व की जानी मानी सख्शियत है !

इस स्वर कोकिला का जन्म 28 सितम्बर 1929 को मध्य प्रदेश के इंडोर में हुआ !

भारत रत्न लता मंगेशकर ने सिनेमा को अपनी मीठी आवाज दी और हजारो गीत गाये !

इसी लिए लता जी को सबसे बड़े सम्मान दादा साहिब फाल्के अवार्ड से नवाजा जा चूका है !

प्रथम लोक सभा स्पीकर मीरा कुमार

International women's day in hindi

वह प्रथम महिला जिसने लोक सभा स्पीकर होने की मोहर अपने नाम पर लगवाई वह है मीरा कुमार !

ये लोक सभा स्पीकर पद के लिए 3 जून 2009 को चुनी गयी !

मीरा कुमार का जन्म 31 मार्च 1945 को सासा राम बिहार में हुआ !

प्रथम महिला सुरेखा यादव ट्रैन चालक

International women's day in hindi

भारतीय रेलवे की पहली महिला रेलगाड़ी चालक होने का मान सुरेखा यादव के नाम है !

1988 में वे भारत की पहली महिल ट्रैन चालक बनी !

अप्रैल 2000 में तत्कालीन रेल मंत्री ममता बनर्जी द्वारा

पहली बार महानगरीय शहरों में लेडीज स्पेशल महिला स्पेशल लोकल ट्रैन शुरू की

जिनके चालक दल की सदस्य यादव भी बनी !

उनके करियर में महत्वपूर्ण घटना 8 मार्च 2011 को

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर हुयी थी जब बह डेक्कन क्वीन नामक रेलग़ाडी को पुणे से

c.s.t मुंबई तक ले जाने के लिए एशिया की पहली महिला ट्रैन ड्राइवर बनी !

प्रथम महिला फाइटर पायलट भावना कंठ

International women's day in hindi

भावना का जन्म 1 दिसंबर 1992 को बरौनी में हुआ !

उनके पिता इंडियन आयल कंपनी में इंजीनियर है !

भावना कंठ ने भारतीय वायु सेना परीक्षा दी और सफल हुयी !

जल्द ही भारत की पहली महिला लड़ाकू पायलट्स में से वे एक बन गयी !

बचपन में ही आसमा में जहाजों को उड़ते देख जहाज उड़ाने का सपना देखने

वाली भावना इंडियन एयर फाॅर्स में पहले बैच की महिला फाइटर पायलट है !

Conclusion:

ऊपर हमने इस बात पर चर्चा की है की International women’s day in hindi कब और क्यों मनाया जाता है !

इसमें इतहासिक महिलाओ के बारे में भी चर्चा की गयी है

जो की दुनिया में प्रथम श्रेणी में आती है जो की देश विदेश में भी काफी लोकप्रिय है !

हम सभी को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाना चाहिए जिससे महिलाओ का सम्मान बड़े !

Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *