धार्मिक

ये 5 लक्षण बताते है की देवों के देव महादेव का आपके सिर पर हाथ हैं!

देवों के देव महादेव

भगवान शिव जिन्हे सारी सृष्टि देवों के देव महादेव के नाम से भी पुकारती है।

देवता , किन्नर , दैत्य, दानव, राक्षस, यक्ष, गंधर्व आदि भगवान देवों के देव महादेव को

पूजते और उनके ध्यान में मग्न रहते है। भगवान शंकर के कई अनेक नाम है और उनको एक नाम

से जानना उनको सिमित करना है। इसलिए सारी सृष्टि में उनको अलग अलग नामों से पूजा जाता है।

जैसे की भोलेनाथ , आदिदेव , महादेव , शंकर , त्रिशूलधारी , महाकाल , विश्वनाथ , सोमेश्वर , कैलाशपति आदि

के नामो से पूजा और पुकारा जाता है। जो मनुष्य देवों के देव महादेव को सच्चे मन से पूजता है तो भगवान

शिव उसकी हर मनोकामना पूर्ण करते है और उसके मन में सदैव वास करते है।

ये 5 लक्षण बताते है की देवों के देव महादेव का आपके सिर पर हाथ हैं!

जो मनुष्य देवों के देव महादेव को सच्चे मन से पूजता हो जो सदैव भगवान शिव का ध्यान करता हो

उस मनुष्य में ये लक्षण बताते है की महादेव सदैव उसके साथ है और उसको कोई

भी दुःख या किसी बात का डर कभी भी नहीं सताता। उस मनुष्य के मुख पर हमेशा एक अलग प्रकार की

चमक रहती है और हमेशा खुश रहता है।

ये है वो 5 लक्षण:

1.जो मनुष्य हमेशा साधारण जीवन बतीत करता है और दिखावे से दूर रहता है दुसरो को निचा दिखने की

कोशिश नहीं करता है भूल से भी किसी के साथ कटशब्दों में बात नहीं करता कभी भी जानबुचकर किसी

का अपमान नहीं करता और वो मनुष्य पशु प्रेमी होता है उसपर सदैव महादेव की कृपा बनी

रहती है।

2.जो मनुष्य धन सम्पति , ज्ञान , ऐश्वर्या , लक्ष्मी इत्यादि को पाकर भी अहंकार नहीं करता सदैव दुसरो

के साथ विनम्रता से रहता है ऐसे मनुष्य पर महादेव की सदैव कृपा रहती है।

3.जिस प्रकार नदियां अपना जल खुद नहीं पीती वृक्ष अपना फल खुद नहीं खाते और महादेव की कृपा प्राप्त व्यक्ति

अपना जीवन परोपकार में बिताता है ऐसा व्यक्ति सदैव दूसरों की सहायता करने में तट पर रहता है

दूसरों को ख़ुशी देने के उद्देश्य से ही परिश्रम करता रहता है।

4.जो मनुष्य बहुत ज्यादा बलवान होने पर श्माशील हो और दुसरो पर अत्याचार न करने वाला हो और कभी अपने

बल पर घमंड न करता हो वो मनुष्य महादेव का बहुत प्रिय होता है।

जो मनुष्य दुर्लभ वस्तु को पाने की इच्छा नहीं रखते नाशवान वस्तु के विषय में शोक नहीं करते

तथा विपत्ति आने पर घबराते नहीं है डट कर उस विपत्ति का सामना करते है उनके सिर पर सदैव महादेव

का हाथ रहता है।

5.जो मनुष्य हमेशा शिव का ध्यान करता हो और उसके मन में किसी के प्रति कोई भी क्रूर भावना न हो

उसका मन साफ़ हो भगवान देवों के देव महादेव की कृपा सदैव उस मनुष्य पर बनी रहती है।

 

Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *